मुंबई : सुशांत की मौत के बाद ड्रग मामले में हो रही जांच की वजह से बॉलीवुड की काफी ज्यादा आलोचना हो रही है। जब बॉलीवुड और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को गटर कहा गया तो इस पर राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने तीखी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने इशारों-इशारों में रवि किशन और कंगना पर जमकर निशाना साधा। जया बच्चन ने कहा कि जिन लोगों ने सिनेमा के क्षेत्र में नाम-पैसा सब कुछ कमाया, आज वो इस इंडस्ट्री को गटर की उपमा दे रहे हैं, मैं इससे बिल्कुल सहमत नहीं हूं। जया बच्चन के इस बयान पर शिवसेना खासा खुश नजर आ रही है। शिवसेना ने आज अपने संपादकीय में जया बच्चन की जमकर तारीफ की और कहा कि जया बच्चन अपनी बेबाकी और सच बोलने के लिए काफी ज्यादा लोकप्रिय हैं।

जया बच्चन

बुधवार को शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में लिखा कि हिंदुस्तान का सिनेजगत पवित्र गंगा की तरह निर्मल है, ऐसा कोई दावा नहीं करेगा। लेकिन कुठ टीनपाट कलाकार दावा करते हैं कि सिनेजगत गटर है, ऐसा भी कुछ नहीं कहा जा सकता। सामना में लिखा गया कि जया बच्चन ने अपनी इस पीड़ा को व्यक्त किया है।
सामना में लिखा गया कि जया बच्चन के ये विचार जितने महत्वपूर्ण हैं, उतने ही बेबाक भी हैं। ये लोग जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद भी करते हैं। सामना ने आगे लिखा कि जय बच्चन ने अपने राजनैतिक और सामाजिक विचारों को कभी छुपाकर नहीं रखा। सामना में लिखा कि महिलाओं पर अत्याचार के मामले पर जया बच्चन ने बहुत भावुक होकर आवाज उठाई। ऐसे समय में जब बॉलीवुड की बदनामी और आलोचना हो रही है, अकसर तांडव करने वाले पांडव भी जुबान बंद किए हुए हैं। शिवसेना ने आगे लिखा कि जया बच्चन का कहना है कि मनोरंजन जगत में जब लाइट, कैमरा, एक्शन बंद है तब मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए बॉलीवुड को सोशल मीडिया पर बदनाम किया जा रहा है।